कंप्यूटर क्या है,इसका उपयोग और गुण क्या हैं ?

हमारे आस – पास या ज्यादातर व्यक्तियों के पास एक मशीन या इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस होता हैं. कुछ लोग मोबाइल फ़ोन का इस्तमाल करते हैं और कुछ लोग कंप्यूटर का, लेकिन इन दोनों वस्तुओ का इस्तमाल हमारे जीवन ज्यादातर हो रहा है. क्योकि आज का युग आधुनिक यूग हो गया.


इस यूग में कंप्यूटर का विकास बहुत तेजी से हो रहा हैं. तो मै कंप्यूटर की बात करू तो कंप्यूटर एक advanced मशीन या इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस है. जो कुछ निर्धारित या उस मशीन के जो निर्देश तय किया है वह उसी के अनुशार कार्य करते हैं.

 

इस शब्द का विकास लैटिन भाषा के “Compute” से हुआ हैं. इसका मतलब होता हैं Calculation करना या गणना करना. कंप्यूटर आमतोर पर एक मशीन हैं, जिसका काम होता हैं गणना करना या गणनाओं को करने में मदद करना.

कंप्यूटर का मुख्य रूप से तीन काम होता हैं. कंप्यूटर का पहला काम data को यूजर से लेना, जिसे हम इनपुट भी कहते हैं. दूसरा काम लिए गये डाटा को Process करने का होता है और फिर अंतिम में उस Processed डाटा को दिखाने का होता है, जिसे हम आउटपुट कहते हैं.


computer एक स्वचालित तथा निर्देशों के अनुसर कार्य करती है, जिसमे डाटा को प्राप्त करना या डाटा को जमा करना तथा saved डाटा को प्रदर्शित करने की क्षमता होती हैं. ये हमारे डाटा को कई  सालो के लिए बचा के रखता है और उसे नस्ट नहीं  होने  देता है. कंप्यूटर का कोइ आपना निश्चित आकर नहीं होता उसे कार्य के हिसाब से  विभिन्न आकारों में बनाया जाता हैं. कोइ कंप्यूटर बड़ा या कोई छोटा होता है, लेकिन इसकी मूल संरचना एक ही तरह की होती है. कहने का मतलब यह हैं की  कंप्यूटर किसी भी आकार का क्यों ना हो उसको बनाने का तरीका एक ही होता हैं.

कंप्यूटर क्या हैं ?

कंप्यूटर एक advanced machine या electronic device हैं. जिसका काम होता है, गणना करना या गणनाओं को करने में हमारी सहायता करना. ये हमारे व्दारा input किये गये डाटा को आगे processed करता है और उसे output के रूप में दिखता है, इसे ही हम कंप्यूटर कहते हैं.  

कंप्यूटर row data को इनपुट डाटा के रुपे में लेता और फिर उस डाटा को program (set of Instuction) के मदद से process करता हैं तथा उसे अंतिम में परिणाम (Result) के रूप में Output दिखता हैं.

कंप्यूटर का विकास सबसे से पहले Charles Babbage ने किया था. इन्हों ने सबसे पहले Mechanical कंप्यूटर को डिज़ाइन किया, जिसे हम Analytical Engine भी कहते हैं. इसने हम डाटा insert करने के लिए Punch card की सहायता लेते हैं.

कंप्यूटर शब्द का फुल फॉर्म क्या हैं :-

कंप्यूटर का तकनीकी रूप में कोइ भी मतलब हो सकता हैं. लेकिन हम कंप्यूटर का एक फुल फॉर्म अपने तरीके से दे रहे हैं.

     English                Hindi

 C – Commonly         -    आम 

 O – Operating          -   संचालित

 M – Machine           -     मशीन

 P – Purposely          -   विशेष रूप से

 U – use for             -    प्रयुक्त 

 T – Technological and      तकनीकी

 E – Educational            शिक्षात्मक

 R – Research              अनुसंधान


 कंप्यूटर के गुण :

1. गति (Speed) – आज – कल हम अपने कामो को तेजी से करने के लिए बहुत से साधनों का इस्तमाल करते हैं, ताकि हमारा काम तेजी से हो. उसी साधनों में से एक कोम्पुटर भी हैं. जो हमारे कामो को बहुत तेजी से करता. कंप्यूटर लाखों गणनाएँ पलभर या चुटकियो में कर सकता हैं. ये इतना तेजी से कार्य करता हैं की यह एक सेकंड में हजरों – लाखों गणितीय कार्यो को एक साथ कर सकता हैं.

2.   सुध्दता (Accuracy) – कंप्यूटर अपने कठिन से कठिन या कई सारे कामों को बिना किसी के परिणाम निकाल देता हैं. कंप्यूटर उस समय गलती करता हैं जब प्रोग्रामर व्दारा कंप्यूटर का प्रोग्राम गलत प्रोग्राम लिखा गया हो, अगर प्रोग्रामर ने सही प्रोग्राम लिखा हैं. तो कंप्यूटर कभी गलती नहीं कर सकता हैं. क्योंकी ये कठिन से कठिन गणनाओं को बरी आसानी से कर लेता हैं.

3.  उच्च संग्रह क्षमता (High Storage Capacity) – कंप्यूटर अपने मेमोरी में सूचनाओं से बहुत ज्यादा डाटा को संचित रख सकता हैं. कंप्यूटर में मेमोरी पहले से हीं लगे होते हैं, जो डाटा को Store करते हैं. इसके अलावे स्टोर किये गये डाटा को Secondary devices के मदद से कभी -भी और कही -भी लेजा सकते है.


Post a Comment

0 Comments