गति किसे कहते हैं ? | इसके कितने प्रकार हैं ?

हमारे जीवन में गति का महत्व किसी भी रूप में कम नहीं हैं और दुनिया का हर एक वस्तु प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से गतिमान है. जैसे :- हमारा चलना, दौड़ना, खेलना तथा पृथ्वी  का घूमना ये सब गति है. यदि हम ये कहे की जीवन का आधार ही  गति है, तो ये कहना गलत नहीं होगा.

गति क्या हैं
गति क्या हैं .

{tocify} $title={Table of Contents}

गति क्या है (What is Motion):-

किसी वस्तु की स्थिती में समय के साथ परिवर्तन गति कहलाता है. जैसे :- दौड़ना, खेलना, चलना अदि.

गति का सूत्र :-

गति का सूत्र (Formula) :- विस्थापन / समय.

गति के प्रकार :-

यदि हम गति में देखे तो गति के विभिन्न प्रकार होती हैं, जिस प्रकारों के बारे में हम आपको आगे समझायेंगे.

रेखीय गति (Linear Motion):-

इस गति में यदि कोइ गतिमान वस्तु एक सीधी रेखा में चलती हैं या गति करती हैं, तो इस गति को रेखीय गति कहते हैं.

NOTE :- रेखीय गति को स्थान्तरित गति (Translator Motion) भी कहते हैं.

अनियमित गति (Random Motion):-

 कोइ गतिमान वस्तु अगर अपनी दिशा हमेशा बदलती रहे, तो यह गति वस्तु की अनियमित गति कहलाती हैं.    जैसे :- फूलो पर मंडराने वाली तितलियों की गति आदि.

कम्पनीय गति (Vibratory Motion):-

इस गति में कोइ गतिशील वस्तु अपने मार्ग के किसी नियत बिंदु के इधर-उधर या उपर-निचे गति करती रहती हैं, तो इस गति को वस्तु की कम्पनीय गति कहते हैं. जैसे:- झूले की गति आदि.

NOTE :- इस गति को वस्तु का दोलनीय गति (Oscillatory Motion) भी कहते हैं.

वृत्तीय गति (Circular Motion):-

इस गति की अगर हम बात करे तो यदि कोइ गतिमान वस्तु वृत्तीय पथ या निश्चित बिंदु और गतिशील बिंदु पर घुमती हैं , तो यह गति के वृत्तीय गति कहलाता है. जैसे :- लट्टू की गति, पृथ्वी का घूमना \ आदि.

NOTE :- वृत्तीय गति को धुर्णन गति (Rotatory Motion) भी कहते हैं.

एकसामान वृत्तीय गति (Uniform Circular Motion):-

जब कोई वस्तु वृत्तीय पथ पर समान समयान्तराल में सामान दुरी तय करती हैं, तो वस्तु की इस गति को एकसमान वृत्तीय गति कहते हैं. जैसे :- सूर्य के चारो-ओर पृथ्वी की गति आदि.

एकसमान गति (Uniform Motion):-

जब कोई गतिमान वस्तु किसी निश्चित दिशा में समान समयान्तरालों में समान दूरियाँ तय करती है, तो वस्तु की गति एकसमान गति कहलाती हैं. जैसे:- किसी गाड़ी चालक का समान चाल से समान दुरी तय करना आदि.

असमान गति (Non-Uniform Motion):-

यदि कोई वस्तु समान समयान्तरालों में अलग-अलग दुरी तय करती हो, तो उसकी गति असमान गति कहलाती हैं. जैसे :- कोई गाड़ी चालक पहले घंटे में 4 किलोमीटर, दुसरे घंटे में 5 किलोमीटर तथा तीरसे घंटे में 8 किलोमीटर तय करता हैं तो इनकी गति हर एक घंटे अलग-अलग हैं इसे ही हम असमान गति कहते हैं.

लौटनी गति (Rolling Motion):-

 जब कोई पिण्ड स्थानांतरण व घूर्णन दोनों प्रकार की गति करता है तो वह लैटनी गति कहलाती हैं.

प्रक्षेप्य गति (Projectic Motion):-

प्रक्षेप्य गति में जब कोई पिण्ड आकाश में निश्चित वेग से फेंके जाने के बाद यह पृथ्वी के गुरुत्वीय स्वतंत्रता पूर्वक गति (करता हैं। तो यह गति प्रक्षेप्य गति कहलाती हैं. जैसे:- धनुष से छोड़ा गया तीर

NOTE:- प्रक्षेप्य गति को पिंड की गति भी कहते हैं.


Post a Comment

0 Comments