त्वरण किसे कहते हैं? और त्वरण के प्रकार क्या हैं?

 

त्वरण

त्वरण का परिभाषा - किसी वस्तु के वेग—परिवर्तन की दर को वस्तु का त्वरण (Acceleration) कहते हैं. त्वरण एक सदिश राशि हैं एवं त्वरण को हम a से प्रदर्शित करते हैं.

 त्वरण गति क्या हैं ? (What is Acceleration Motion)

यदि किसी गतिमान वस्तु का वेग लगातार या निरंतर बढ़ रहा हैं, तो उसकी गति त्वरण (Acceleration Motion) गति कहलाती हैं.

त्वरण का सूत्र –

                              त्वरण = वेग – परिवर्तन/समयांतराल

त्वरण का मात्रक –       

                                    मिटर/सेकण्ड2 या (m/s2)

NOTE:- इसे सेकण्ड- -2 से भी प्रदर्शित करते हैं.

त्वरण के प्रकार (Type of Acceleration)

किसी वस्तु में उत्पन्न त्वरण तीन प्रकार का होता हैं, जो उनके मध्य भिन्नता को भी सही से व्यक्त करता हैं.

एकसमान त्वरण (Uniform Acceleration)

यदि किसी वस्तु के वेग में, समान समयांतराल में समान वेग परिवर्तन रहा हो, तो उसे वस्तु का एकसमान त्वरण (Uniform Acceleration) कहते हैं.

जैसे:- मुक्त रूप में ऊपर से नीचे गिरती हुई किसी वस्तु में एक समान त्वरण होता है.

असमान त्वरण (Non-uniform Acceleration)

असमान त्वरण में यदि वस्तु के वेग में परिवर्तन का दर समान समयांतरालों के लिए अलग – अलग  हो तो इसे हम वस्तु का असमान त्वरण (Non-uniform Acceleration) कहते हैं.

जैसे:- भीड़ भरे बाजार में मोटर गाड़ी चलते समय मोटर गाड़ी की गति बढ़ाई जाती हैं, तो कभी मोटर गाड़ी में ब्रेक लगाने पड़ते हैं. इस समय मोटर गाड़ी का त्वरण असमान होता हैं.

धनात्मक और ऋणात्मक त्वरण (Positive and Negative Acceleration)

यदि किसी वस्तु के वेग की चाल समय के साथ – साथ बढ़ रहा हो , तो यह त्वरण वस्तु का धनात्मक त्वरण (Positive Acceleration) कहलाता हैं. और अगर वस्तु के वेग की चाल समय के साथ – साथ घटती रहे, तो इस प्रकार के त्वरण को हम ऋणात्मक त्वरण (Negative Acceleration) कहते हैं.

NOTE:- ऋणात्मक त्वरण को हम मन्दन (Retardation) भी कहते हैं.

Post a Comment

0 Comments